मोदी के आकस्मिक लाहौर दौरे का अलगाववादियों ने किया ‘स्वागत

श्रीनगर : अलगाववादियों ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लाहौर यात्रा का स्वागत किया जहां हुर्रियत कांफ्रेंस के नरमपंथी धड़े के अध्यक्ष मीरवाइज उमर फारूक ने इसे ‘सकारात्मक कदम’ बताया और कट्टरपंथी धड़े के नेता सैयद अली शाह गिलानी ने कहा कि उन्हें भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्तों में सुधार पर कोई आपत्ति नहीं है। गिलानी ने कहा, ‘हमें भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्तों में सुधार को लेकर कोई आपत्ति नहीं है। सही सोच रखने वाले किसी शख्स को इस पर कोई आपत्ति नहीं होगी। हालांकि अगर इन प्रयासों को सफल बनाना है तो दोनों देशों को जनता की इच्छाओं और आकांक्षाओं के अनुसार कश्मीर मुद्दे का समाधान करना होगा।’ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के 66वें जन्मदिन के मौके पर उनसे मिलने अचानक पाकिस्तान पहुंचे पीएम मोदी के इस कदम पर प्रतिक्रिया देते हुए कट्टरपंथी हुर्रियत नेता ने कहा, ‘हमें उम्मीद है कि पाकिस्तान भी कश्मीर मुद्दे पर अपने रख पर कायम रहेगा।’ नरमपंथी धड़े के नेता मीरवाइज उमर फारूक ने कहा, ‘मोदी की आकस्मिक पाकिस्तान यात्रा सकारात्मक कदम है। कश्मीर की जनता ऐसे किसी भी अवसर का स्वागत करती है जो भारत और पाकिस्तान को करीब लाएगा।’